अरे ओ यारों, थोडा समय तो निकालो

सामान्य
अरे ओ यारों, थोडा समय तो निकालो,
चार दिन की है अपनी ये जिंदगी,
दोस्तों को भी याद करो अरे ओ काम वालों,
अरे ओ यारों! थोडा समय तो निकालो |

व्यस्त हैं सब, इससे इनकार कब है,
काम का है बोझ, खुशियाँ साकार कब है,
व्यस्तता में से कुछ छन हंसी के निकालो,
अरे ओ यारों! थोडा समय तो निकालो |

अपनी अपनी जिंदगी में हर कोई है खोया,
दूसरों के दुःख में कोई एक आंसूं न रोया,
दो पल का साथ किसी और से निभालो,
अरे ओ यारों! थोडा समय तो निकालो |

दोस्तों की दोस्ती सब भूल ही गए,
काम के नशें में सब खो ही गए,
कमबख्तों!!दोस्ती की लाज थोड़ी-सी उठा लो,
अरे ओ यारों! थोडा समय तो निकालो |

Advertisements

2 responses »

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s